काले चावल से दूर करें कैंसर और डायबिटीज…

0
42
BLACK RICE
BLACK RICE
BLACK RICE1
BLACK RICE1

NEW DELHI. कैंसर और डायबिटीज जैसी बीमारियों को दूर भगाने के लिए रामबाण इलाज काला चावल है. सरकार भी इसे प्रमोट कर रही है. New Delhi के दिल्ली हाट में लगे भारतीय महिला उत्सव 2017 में काले चावल को भी रखा गया है. ये उत्सव 1 अक्टूबर से 15 अक्टूबर 2017 तक चलेगा.

सामान्य तौर पर लोगो को काले चावल के बारे में जानकारी नहीं होती. आमतौर पर बाजार में भी यह उपलब्ध नहीं होता. चूँकि सामान्य और उच्च गुणवत्ता वाले चावल की कीमत से कहीं ज्यादा इसकी कीमत होती है. महिला उत्सव में इसकी कीमत 500 रुपया प्रति किलो रखी गयी है.

यह चावल एशिया महाद्वीप में प्रमुख रूप से खाया जाता है. पुराने समय में चीन के एक छोटे हिस्से में काले चावलों की खेती की जाती थी और ये चावल केवल राजा के लिए बनाये जाते थे. आज के समय में ये चावल पोषण और सेहत के सबसे अच्छे माध्यमों में से एक है. इनको खाने से आपको अधिक पोषण मिलता है और सेहत संबंधी कई समस्याएं को दूर करता है.

काले चावल में अधिक मात्रा में प्रोटीन, आयरन, फाइबर, विटामिन बी के साथ-साथ एंटीऑक्सीडेंट भरपूर मात्रा में पाया जाता है. इसको खाने से कई बीमारियों से बचाव हो सकता है। काले चावल दिल से जुड़ी बीमारियों के लिए बहुत फायदेमंद होता है. कई अध्‍ययन से बात सामने आई हैं कि काले चावल में एंथोसाइनिन पाया जाता है. एंथोसाइनिन की मौजूदगी के कारण ही चावल काले रंग के होते हैं.

चावल यह एक ऐसा तत्‍व है जो दिल का दौरा पड़ने की आशंका को कम करता है यानी यह धमनियों में प्‍लॉक जमने नहीं देता है। जो दिल का दौरा पड़ने की सबसे प्रमुख कारण है. काले चावल में किसी भी दूसरे चावल की तुलना में सबसे अधिक प्रोटीन पाया जाता है. इसके अलावा इसमें फाइबर भी बहुत अधिक मात्रा में होता है.

काले चावल में अधिक मात्रा में एंटीऑक्सीडेंट पाया जाता है और एंटीऑक्‍सीडेंट हमारे शरीर के विषाक्त पदार्थो को निकालने में सहायक होता है. हालांकि कॉफी और चाय में भी एंटीऑक्सीडेंट पाय़े जाते है, लेकिन काले चावल में इसकी मात्रा बहुत अधिक होती है. जिसके कारण यह कई तरह की बीमारियां और सेहत संबंधी परेशानि‍यां दूर रखता है.

इसके अलावा काले चावल में ऐसे शुगर कम, फाइबर ज्‍यादा और विटामिन ई एंटीऑक्‍सीडेंट होने के कारण अल्जाइमर, मधुमेह और यहां तक कि कैंसर से बचाव के लिए भी काले चावल खाना फायदेमंद होता है. काले चावल का सेवन प्राथमिक स्तर के कैंसर को रोकने में काफी मददगार है. अध्ययनों से पता चला है कि जब मधुमेह और मोटापा के विकसित होने का खतरा होता है, तो परिष्कृत कार्बोहाइड्रेट की तुलना में होल ग्रेन लेना बहुत अधिक लाभकारी होता है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here